UP Shramik Bharan Poshan yojana 2020 मजदूरों के लिए भरण पोषण भत्ता

Share it with your Friends

up shramik bharan poshan yojana 2020 shramik aapda rahat sahayta yojana आपदा राहत सहायता योजना yogi govt daily wage laborers coronavirus bharan poshan bhatta दैनिक दिहाड़ी मजदूर कोरोना वायरस भरण पोषण भत्ता 1000 rupay bharan poshan bhatta 1000 rs allowance to laborers

Shramik Bharan Poshan yojana 2020 Application Form

महत्वपूर्ण जानकारी : अच्छी खबर !! आपदा राहत सहायता योजना के तहत पात्र 30 लाख श्रमिकों को 1000 Rs. की सहायता राशि की दूसरी किश्त 01 मई से खाते में भेज दी गयी है। सहायता राशि Rs. 2000 एक मुश्त पाने के लिए श्रमिकों को अपना खाता अपडेट करने होगा। यह राशि पंजीकृत और नवीनीकृत श्रमिकों को ही मिलेगी। अधिक जानकारी नीचे दी हुयी है…..

खाता अपडेट के लिए उत्तर प्रदेश श्रमिक एप्प अभी डाउनलोड करें 

लॉक डाउन के समय में सभी ज़रूरतमंदों को तत्काल अनाज उपलब्ध कराया जाएगा। जो ज़रूरतमंद किसी भी अनाज योजना का लाभ नहीं ले रहे हैं, उन्हें अनाज के साथ ही रुपये भरण पोषण भत्ता दिया जाए। अधिक जानकारी नीचे दी हुयी है……

प्रदेश सरकार ने स्ट्रीट वेंडर्स, ऑटो चालक, रिक्शा चालाक, ई-रिक्शा और पल्लेदारों के लिए 1 हजार रुपये की सहायता राशि भेजी है। प्रदेश सरकार शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों के नाई, दरजी, मोची, कुम्हार, लोहार, बढ़ई और अन्य श्रेणी के श्रमिकों को भरण पोषण योजना का लाभ देगी। 2 लाख परिवारों को 1000 रुपये का भत्ता दिया जाएगा। पूरी जानकारी नीचे दी हुयी है……

उत्तर प्रदेश सरकार ने श्रमिकों के लिए लॉक डाउन में श्रमिक भरण पोषण योजना शुरू की है, इसमें मजदूरों के खाते में 1000 रुपये भेजे जाएंगे। इससे प्रदेश में पंजीकरण 20.37 लाख निर्माण श्रमिकों को भरण पोषण के लिए प्रतिमाह भत्ता दिया जाएगा। प्रथम चरण में 5.97 लाख श्रमिकों के खाते में राशि भेजी जा चुकी है। ऐसे श्रमिक जिनका पंजीकरण श्रम विभाग या मनरेगा में नहीं है वो इस योजना का लाभ उठाने के लिए आवेदन भर सकते हैं। Whatsapp Number 9415365105, 7052152411 पर आवेदन भेज सकते हैं, पल्लेदारों और रिक्शा चालकों को भी भत्ता दिया जाएगा। पूरी जानकारी नीचे दी हुयी है……

अभी पूरे विश्व में कोरोना वायरस नामक महामारी फैली हुई है। विश्व स्वास्थ्य संगठन ने इससे निपटने के लिए कई दिशा निर्देश जारी किए है। देश के प्रधानमंत्री ने आम नागरिक की रक्षा के लिए घर में रहने की हिदायत दी है। यह वायरस एक इंसान से दुसरे इंसान में संक्रमण से फैलता है। इसलिए पूरे देश में लॉकडाउन कर दिया गया है। देश में कोरोना वायरस के मरीज़ों की संख्या दिन पर दिन बढ़ती जा रही है।

up shramik bharan poshan yojana 2020

up shramik bharan poshan yojana 2020

लॉकडाउन की वजह से प्रदेश के दिहाड़ी मजदूरों की रोज़ी रोटी की मदद करने के लिए राज्य सरकार ने एक स्कीम बनाई है। इस योजना के तहत योगी सरकार ने दिहाड़ी मजदूर और कंस्ट्रक्शन मजदूरों को 1-1 हजार रुपए भरण पोषण भत्ता देने का फैसला लिया है। जिससे इस विकट परिस्थिति में वह रोजमर्रा का जीवन बिना किसी परेशानी के निकाल सके।

भरण पोषण भत्ते के लिए अपने खाते का विवरण दर्ज करने के लिए यहाँ क्लिक करें

योजना का नामयूपी श्रमिक भरण पोषण योजना
किसके द्वारा लॉन्चउत्तर प्रदेश सरकार द्वारा
लाभार्थीदिहाड़ी मजदूर और कंस्ट्रक्शन मजदूर
लाभ 1000 रुपए प्रति मजदूर
लाभार्थियों की संख्यालगभग 15 लाख दिहाड़ी एवं 20 लाख कंस्ट्रक्शन मजदूर

यूपी श्रमिक भरण पोषण योजना का उद्देश्य

कोरोना वायरस के कारण सभी तरह के कार्य बंद कर दिए गए हैं। ऐसे में इन लोगों को जिंदगी बसर करने के लिए रोजाना मेहनताना मिलना बंद हो चुका है। इस तरह के लोगों के लिए कोरोना वायरस से ज्यादा बड़ी विपत्ति बिना काम के घर पर रहना है। सरकार द्वारा इस कोरोना वाइरस को रोकने के लिए जनता से अपील की गई हैं कि वे घर में बंद हो जाए और जरूरत पड़ने पर भी बाहर निकले ऐसे में बहुत से काम जिनके जरिये मजदूर वर्ग कमाते हैं। वे सभी स्थगित कर दिये गए हैं ऐसी स्थिती में उन लोगो के लिए दो वक्त की रोटी जुगाड़ना भी कठिन हो गया हैं। इस परेशानी को कम करने के उद्देश्य से इस योजना को शुरू किया जा रहा हैं।

उत्तर प्रदेश गंभीर बीमारी सहायता योजना आवेदन के लिए यहाँ क्लिक करें

यूपी श्रमिक भरण पोषण योजना के लिए पात्रता

  • योजना के भीतर दिहाड़ी मजदूरो एवं कन्स्ट्रकशन मजदूरों को लाभ मिलेगा। अनुमान लगाया जा रहा हैं कि प्रदेश में लगभग 35 लाख ऐसे मजदूर होंगे जिन्हे सरकार 1000 रुपये देगी।
  • इस योजना का लाभ उन्ही मज़दूरो को मिलेगा जिन्होने श्रमिक विभाग में पंजीयन करवा रखा हो।

भरण पोषण भत्ता आवेदन प्रक्रिया

सरकार ने कहा है कि इसका लाभ सिर्फ पंजीकृत मजदूर को ही मिलेगा। तो मुख्यमंत्री जी ने सभी अधिकारीयों को आदेश दे दिया है कि जल्द से जल्द सभी मजदूरों के रजिस्टर बैंक अकाउंट में यह राशी ट्रान्सफर की जाये। इसके लिए कोई आवेदन नहीं हो रहा है, सरकार खुद आरटीजीएस द्वारा लाभार्थी के अकाउंट में राशी डालेगी।

योजना के तहत बोर्ड अपनी वेबसाइट पर उपलब्ध सभी नवीनीकृत श्रमिक जिनके बैंक खाते का विवरण बोर्ड के पोर्टल पर उपलब्ध है, के आवेदन सॉफ्टवेयर के माध्यम से अपर/उप/सहायक श्रमायुक्त द्वारा जेनेरेट कराएगा। बोर्ड के पास 5.97 लाख पंजीकृत निर्माण श्रमिकों के बैंक खातों का विवरण पोर्टल पर उपलब्ध है। जिन पंजीकृत श्रमिकों के बैंक खातों का विवरण पोर्टल पर उपलब्ध नहीं है या संशोधन की आवश्यकता है अपर/उप/सहायक श्रमायुक्त/जिला श्रम प्रवर्तन अधिकारी उनसे यह विवरण प्राप्त करके पोर्टल पर अपलोड और संशोधित करेंगे। बोर्ड से स्वतः जनित आवेदन पत्रों को अपर/उप/सहायक श्रमायुक्त को पोर्टल के माध्यम से फॉरवर्ड करेगा।

 कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या ना बढ़े इसके लिए डबल्यूएचओ के निर्देशो का पालन करना बहुत जरूरी हैं। अगर यह बीमारी यही रोक ली जाये तो रोज़मर्रा की ज़िंदगी आसानी से शुरू हो जाएगी लेकिन फिलहाल परिस्थितियाँ विकट हैं इसलिए सरकार द्वारा बताए गए नियमोनुसार चलना जरूरी हैं।

कोरोना वायरस से जुड़ी अफवाहें और विश्व स्वास्थ्य संगठन के दिशा निर्देश जानने के लिए यहाँ क्लिक करें

यूपी श्रमिक भरण पोषण योजना के बारे में नवीनतम अपडेट के लिए हमारी वेबसाइट (www.sarkariyojnaye.com) के साथ संपर्क में रहें। तत्काल अपडेट प्राप्त करने के लिए इस पृष्ठ को बुकमार्क करें (CTRL + D दबाएं)। किसी भी प्रश्न/ सहायता के लिए नीचे दिए गए बॉक्स में एक टिप्पणी छोड़ दें। आप हमारे फेसबुक पेज (www.facebook.com/sarkariyojnaye247) पर भी एक संदेश छोड़ सकते हैं या disha@sarkariyojnaye.com पर एक मेल छोड़ सकते हैं।

अगर आपको यूपी श्रमिक भरण पोषण योजना से सम्बंधित कोई भी प्रश्न पूछना हो तो आप नीचे कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है , हमारी टीम आपकी मदद करने की पूरी कोशिश करेगी। अगर आपको हमारी ये जानकारी अच्छी लगी हो तो आप इसे अपने दोस्तों को भी शेयर कर सकते है ताकि वो भी इस योजना का लाभ उठा सके।

40 comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *