UP Property Registration 2020 Apply Online | Application Status igrsup.gov.in

Share it with your Friends

up property registration 2020 apply online application status 2019 igrsup.gov.in uttar pradesh online property portal up online registry रजिस्ट्री उत्तर प्रदेश ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन संपत्ति पंजीकरण यूपी जमीन रजिस्ट्री पंजीकरण यूपी स्टाम्प एवं रजिस्ट्रेशन विभाग

UP Property Registration 2020 (यूपी संपत्ति रजिस्ट्रेशन)

महत्त्वपूर्ण जानकारी : बड़ी खबर !! आरोग्य सेतु ऐप के बिना जमीन की रजिस्ट्री नहीं होगी, रजिस्ट्री के लिए क्रेता और विक्रेता व गवाहों के प्रमाण पत्र की मूल प्रति व छाया प्रति अनिवार्य होगी। लॉक डाउन में सोशल डिस्टन्सिंग का पालन करने और भीड़ से बचने के लिए संपत्तियों का ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करने की तैयारी है। स्टाम्प एवं रजिस्ट्रेशन विभाग यह प्रक्रिया अब 20 अप्रैल से शुरू करेगा। आवेदनकर्ता को पहले समय व दिन का आवंटन किया जाएगा। अधिक जानकारी नीचे दी हुयी है….

Aarogya Setu App Download : Covid-19 Tracker आरोग्य सेतु एप डाउनलोड के लिए यहाँ क्लिक करें

UP Government is going to start Urban Property Ownership Record Scheme. Under this scheme, Urban Property will link to aadhar Card. In 1st Phase, this scheme will implement in Lucknow, Kanpur, Agra, Ghaziabad, Varanasi, Meerut, Prayagraj. Read full news from Image below….

खुशखबरी !! प्रदेश सरकार ने प्रॉपर्टी पर लगने वाली रजिस्ट्री फीस को एक समान करने का निर्णय लिया है। अब रजिस्ट्री शुल्क 1% देना होगा, 20 हजार की अधिकतम शुल्क सीमा खत्म होगी। पूरी जानकारी नीचे इमेज में दी गयी है….

सरकार ने उत्तर प्रदेश के लोगों के लिए यूपी प्रॉपर्टी रजिस्ट्रेशन सेवा शुरू की है। इसकी पूरी प्रक्रिया स्टाम्प एवं रजिस्ट्रेशन विभाग द्वारा की जाएगी। इस विभाग के द्वारा कई ऑनलाइन सेवाएं प्रदान की जाती है। जो सेवा का लाभ उठाना चाहते है वह अपने लेखपत्र को इस वेबसाइट के माध्यम से स्वयं भी तैयार कर सकते है और अपने निकटतम CSC सेण्टर द्वारा भी निर्धारित फीस का भुगतान करके भी कर सकते है। पहले अपनी जमीन की रजिस्ट्री करने के लिए सरकारी ऑफिस के चक्कर काटने पड़ते थे जिससे समय भी बर्बाद होता था लेकिन अब इस विभाग के माध्यम से आप अपनी संपत्ति का पंजीकरण घर बैठे भी कर सकते है।

up property registration 2020

up property registration 2020

स्टाम्प एवं रजिस्ट्रेशन विभाग उत्तर प्रदेश संपत्ति पंजीकरण के अंतर्गत पांच प्रकार की सुविधाएं प्रदान कर रहा है। पहली ऑनलाइन आवेदन करें, दूसरी औद्योगिक संपत्ति पंजीकरण हेतु निवेश मित्र, तीसरी संपत्ति पंजीकरण हेतु अपॉइन्टमेंट, चौथी संपत्ति खोजें और पांचवी संपत्ति विवरण।

योजना का नामयूपी संपत्ति पंजीकरण
विभागउत्तर प्रदेश स्टाम्प एवं रजिस्ट्रेशन विभाग
लाभार्थीराज्य के सभी निवासी
योजना की स्थितिउपलब्ध है
आवेदन की तिथिहमेशा खुली है
पंजीकरण की अंतिम तिथिकोई लास्ट डेट नहीं
आवेदन का प्रकारऑनलाइन

PMAY Eligibility Criteria 2019 Pradhan Mantri Awas Yojna पात्रता सूची के लिए यहां क्लिक करें 

उत्तर प्रदेश स्टाम्प एवं रजिस्ट्रेशन विभाग

स्टाम्प एवं रजिस्ट्रेशन विभाग उत्तर प्रदेश सरकार का एक महत्वपूर्ण विभाग है। इस विभाग द्वारा प्रमुखतः अचल सम्पत्ति के लेखपत्रों के रजिस्ट्रीकरण का कार्य किया जाता है। इसके अतिरिक्त पक्षकारों के विकल्प पर अन्य प्रकार के लेखपत्रों की भी रजिस्ट्री की जाती है। लेखपत्रों की रजिस्ट्री के अतिरिक्त यह विभाग रजिस्ट्रीकृत लेखपत्रों को संरक्षण करता है और लेखपत्रों को जनसाधारण हेतु सुलभ बनाता है।

स्टाम्प एवं रजिस्ट्रेशन विभाग का कार्य प्रमुखतः दो अधिनियमों–रजिस्ट्रेशन अधिनियम 1908 एवं भारतीय स्टाम्प अधिनियम 1899 के अन्तर्गत किया जाता है। रजिस्ट्रीकरण अधिनियम के प्रावधानों के अनुसार विभाग द्वारा लेखपत्रों की रजिस्ट्री की जाती है। रजिस्ट्री के उपरान्त लेखपत्रों का संरक्षण किया जाता है तथा आवश्यकतानुसार साक्ष्य अथवा अन्य प्रयोजन से संरक्षित लेखपत्रों की प्रतियां न्यायालय एवं जनसामन्य को उपलब्ध करायी जाती है। यह विभाग भारतीय स्टाम्प अधिनियम के अन्तर्गत लेखपत्रों पर देय स्टाम्प शुल्क की वसूली का कार्य भी करता है। उ०प्र० सरकार के राजस्व अर्जन में स्टाम्प शुल्क एक प्रमुख स्त्रोत है।

यूपी संपत्ति रजिस्ट्रेशन के लिए जरूरी दस्तावेज

  • आवेदक का फोटो
  • जमीन के कागज
  • गवाहों के पहचान पत्र
  • ऑनलाइन बने हुए आवेदन पत्र की प्रति

यूपी संपत्ति रजिस्ट्रेशन के लिए ऑनलाइन आवेदन

  • सबसे पहले आपको स्टाम्प एवं रजिस्ट्रेशन विभाग की आधिकारिक वेबसाइट https://igrsup.gov.in/igrsup/defaultAction पर जाना होगा।
  • इसके बाद संपत्ति पंजीकरण के अंतर्गत आवेदन करें पर क्लिक करें।
avedan karein

avedan karein

  • जैसे ही आप इस पर क्लिक करेंगे आपके सामने संपत्ति पंजीकरण का फॉर्म खुलकर आ जाएगा। आपको सावधानीपूर्वक भरना है।
avedan form

avedan form

  • इसमें आप अपना पासवर्ड बनाएं और कैप्चा कोड डालने के बाद आगे बढ़ें पर क्लिक करें। अब आपको मोबाइल नंबर पर आवेदन संख्या प्राप्त होगी।
  • अपनी आवेदन संख्या और पासवर्क को संभलकर रखें और लॉगिन करें। अब आगे पूछी जाने वाली जानकारी को सबमिट करें।
  • यूपी संपत्ति पंजीकरण प्रक्रिया मुख्यतः तीन चरणों में पूरी होती है। पहली आवेदक को ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करना होता है। दूसरी ऑनलाइन भरे हुए फॉर्म को लेकर Sub Registrar Office के कार्यालय में उपस्थित होना होता है और तीसरी सभी Sub Registrar Office दस्तावेजों का सत्यापन कर आवेदक को मूल संपत्ति का प्रमाण पत्र प्रदान कर दिया जाता है।

यूपी संपत्ति रजिस्ट्रेशन के लिए अपॉइंटमेंट

  • जिन लोगों ने यूपी संपत्ति रजिस्ट्रेशन के लिए आवेदन किया है वो संपत्ति पंजीकरण हेतु अपॉइंटमेंट ले सकते है।
  • सबसे पहले संपत्ति पंजीकरण हेतु अपॉइंटमेंट पर क्लिक करें।
  • अब आवेदन संख्या और पासवर्ड की सहायता से लॉगिन करें।
  • अब सभी आवश्यक जानकारी को चुने और सुविधानुसार अपॉइंटमेंट प्राप्त करें।

संपत्ति खोजें

  • इस विकल्प के द्वारा आप खिन से भी और कभी भी संपत्ति को खोज सकते है।
  • सबसे पहले संपत्ति खोजे पर क्लिक करें। अब दिए गए विकल्पों में से किसी एक को चुने।
  • अब संपत्ति का पता, तहसील, मोहल्ला आदि को अंकित करें।
  • सभी जानकारी प्रदान करने के बाद विवरण देखे पर क्लिक करें। इस प्रकार आप किसी भी संपत्ति का विवरण आसानी से देख सकते है।
आधिकारिक वेबसाइटयहां क्लिक करें
संपत्ति पंजीकरण हेतु अपॉइंटमेंटयहां क्लिक करें
संपत्ति खोजेंयहां क्लिक करें
सुझाव समस्यायहां क्लिक करें
फ़ोन नंबरयहां क्लिक करें
रजिस्ट्रेशनयहां क्लिक करें

अगर आपको यूपी संपत्ति रजिस्ट्रेशन से सम्बंधित कोई भी प्रश्न पूछना हो तो आप नीचे कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है , हमारी टीम आपकी मदद करने की पूरी कोशिश करेगी। अगर आपको हमारी ये जानकारी अच्छी लगी हो तो आप इसे अपने दोस्तों को भी शेयर कर सकते है ताकि वो भी इस योजना का लाभ उठा सके।

2 comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *