Sovereign Gold Bond Scheme 2022 Buy SGB Online

Share it with your Friends

sovereign gold bond scheme 2022 buy gold online SGB स्वर्ण बांड योजना gold rate objective

Sovereign Gold Bond Scheme 2022

गोल्ड मुद्रीकरण योजना के तहत सरकार द्वारा नवम्बर 2015 में सॉवरेन गोल्ड बॉण्ड स्कीम में शुरू की गई थी। इस योजना के तहत भारत सरकार के परामर्श से भारतीय रिज़र्व बैंक द्वारा किश्तों में निवेश शुरू किया गया है। आरबीआई समय –समय पर इस योजना की नियम एवं शर्तों को अधिसूचित करता है। एसजीबी के लिए निम्नलिखित कैलेंडर के अनुसार खुला रहेगा। प्रत्येक नए निवेश से पहले एसजीबी की दर को आरबीआई द्वारा एक प्रेस विज्ञप्ति के माध्यम से घोषित किया जाएगा।

sovereign gold bond scheme 2022

sovereign gold bond scheme 2022

आरबीआई के अनुदेशानुसार आय कर विभाग द्वारा निवेशकों को जारी पैन संख्या का प्रत्येक आवेदन के साथ होना जरूरी है चूंकि प्रथम / एकल आवेदक का पैन संख्या अनिवार्य है।

Also Read : House Building Advance Scheme

स्वर्ण बांड योजना की विशेषताएँ

  • भारत सरकार की ओर से भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा जारी।
  • बॉन्ड को 1 ग्राम की इकाई के आधार पर सोने के वज़न ग्राम में गुणकों में दर्शाया जाएगा।
  • बॉन्ड की अवधि 8 वर्ष होगी और 5वें, 6 वें और 7 वें साल में योजना से बाहर निकालने का प्रयोग ब्याज भुगतान की तारीखों पर किया जा सकता है।
  • न्यूनतम स्वीकार्य निवेश सीमा 1 ग्राम सोना हैं।
  • निवेश की अधिकतम सीमा एकल वैयक्ति के लिए 4 किलो, हिंदु अविभाजित परिवार के लिए 4 किलोग्राम और ट्रस्टों और इसी तरह की संस्थाओं के लिए 20 किलोग्राम प्रत्येक वित्तीय वर्ष (अप्रैल-मार्च) में सरकार द्वारा समय-समय पर अधिसूचित की जाएगी। इस आशय की एक स्व-घोषणा ली जाएगी। वार्षिक सीमा में सरकार द्वारा प्रारंभ में जारी और द्वितीयक बाजार से खरीदे गए एवं विभिन्न चरणों में निवेश के तहत रखे गए बांड शामिल होंगे।
  • संयुक्त धारिता के मामले में 4 किलोग्राम की निवेश सीमा केवल प्रथम आवेदक पर लागू होगी।
  • नया इश्यू जारी करने से पहले आरबीआई बॉन्ड के इश्यू मूल्य का विवरण देते हुए प्रेस विज्ञप्ति जारी करेगा। बॉन्ड का मूल्य भारतीय रुपयों में निर्धारित किया जाएगा जोकि बुलियन एंड ज्वैलर्स एसोसिएशन लिमिटेड (IBJA) द्वारा सप्ताह के अंतिम 3 व्यावसायिक दिनों के लिए प्रकाशित 999 शुद्धता वाले सोने के बंद भाव के साधारण औसत मूल्य के आधार पर होगा।
  • बांड का भुगतान नकद (अधिकतम रु 20,000/ – तक) या डिमांड ड्राफ्ट या चेक या इलेक्ट्रॉनिक बैंकिंग के माध्यम से किया जाएगा।
  • गोल्ड बांड को सरकारी प्रतिभूति अधिनियम, 2006 के तहत भारत सरकार के स्टॉक के रूप में जारी किया जाएगा। निवेशकों को इस हेतु होल्डिंग प्रमाणपत्र जारी किया जाएगा। बॉन्ड को डीमैट के रूप में परिवर्तित किया जा सकता है।
  • मोचन मूल्य भारतीय रुपये में होगा जो आईबीजेए द्वारा सप्ताह के अंतिम 3 व्यावसायिक दिनों के लिए प्रकाशित 999 शुद्धता वाले सोने के बंद भाव के साधारण औसत मूल्य के आधार पर तय किया जाएगा।
  • भारतीय स्टेट बैंक की सभी शाखाएँ इन निवेशों को स्वीकार करने के लिए प्राधिकृत हैं।
  • निवेशकों को सांकेतिक मूल्य पर 2.50 प्रतिशत प्रतिवर्ष की तय दर पर ब्याज दिया जाएगा, यह अर्ध-वार्षिक आधार पर देय होगा।
  • ऋण के लिए बांड का उपयोग संपार्श्विक रूप में किया जा सकता है। रिज़र्व बैंक द्वारा समय-समय पर जारी अनुदेशानुसार मूल्य पर आधारित ऋण (एलटीवी) अनुपात को साधारण स्वर्ण ऋण के बराबर किया जाना है। बांड पर ग्रहणाधिकार को प्राधिकृत बैंकों के द्वारा डिपॉजिटरी में अंकित किया जाएगा।
    नोट: एसजीबी के एवज़ में ऋण बैंक / वित्तपोषण एजेंसी के निर्णय के अधीन होगा और इसे अधिकार के रूप में न लिया जाए।
  • बांड, भारतीय रिज़र्व बैंक द्वारा अधिसूचित तारीख से एक पखवाड़े के भीतर स्टॉक एक्सचेंजों पर ट्रेड किए जा सकेंगे।

स्वर्ण बांड योजना का उद्देश्य

इसका उद्देश्य देश के मंदिरों तथा घरों में जमा सोने की विशाल मात्रा को उत्पादक कार्यों में लगाना, सोने का आयात कम करना, विदेशी मुद्रा का संरक्षण करना तथा चालू खाता घाटे को कम करना है।

Also Read : Check EPFO Pension Passbook & Statement Online through Umang App

सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड 2022-23 सीरीज

अंश सदस्यता की तिथि जारी करने की तारीख
2022-23 Series I June 20 -June 24, 2022 28-Jun-22
2022-23 Series II August 22 – August 26, 2022 30-Aug-22

*भारत सरकार, पूर्व सूचना के साथ, निर्दिष्ट अवधि से पहले योजना को बंद कर सकती है।

सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड के लाभ

  • परेशानी मुक्त: बिना किसी भौतिक कब्जे के सोने का स्वामित्व (कोई जोखिम नहीं और भंडारण की कोई लागत नहीं)
  • कर उपचार: किसी व्यक्ति को SGB के मोचन पर उत्पन्न होने वाले पूंजीगत लाभ कर में छूट दी गई है। बांड के हस्तांतरण पर किसी भी व्यक्ति को होने वाले दीर्घकालिक पूंजीगत लाभ के लिए इंडेक्सेशन लाभ प्रदान किया जाएगा।
  • ट्रेडेबिलिटी: आरबीआई द्वारा अधिसूचित तारीख को जारी होने के एक पखवाड़े के भीतर स्टॉक एक्सचेंजों पर बॉन्ड का कारोबार किया जाएगा।
  • हस्तांतरणीयता: बांड सरकारी प्रतिभूति अधिनियम के प्रावधानों के अनुसार हस्तांतरण के एक साधन के निष्पादन द्वारा हस्तांतरणीय होंगे।

Click Here to Kisan Vikas Patra (KVP) Interest Rate 

सरकारी योजनाओं की जानकारी के लिए रजिस्ट्रेशन करें यहाँ क्लिक करें
फेसबुक पेज को लाइक करें (Like on FB) यहाँ क्लिक करें
टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिये (Join Telegram Channel) यहाँ क्लिक करें
इंस्टाग्राम पर हमें फॉलो करें (Follow Us on Instagram) यहाँ क्लिक करें
सहायता/ प्रश्न के लिए ई-मेल करें @ [email protected]

Press CTRL+D to Bookmark this Page for Updates

अगर आपको Sovereign Gold Bond Scheme से सम्बंधित कोई भी प्रश्न पूछना हो तो आप नीचे कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है , हमारी टीम आपकी मदद करने की पूरी कोशिश करेगी। अगर आपको हमारी ये जानकारी अच्छी लगी हो तो आप इसे अपने दोस्तों को भी शेयर कर सकते है ताकि वो भी इस योजना का लाभ उठा सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published.