स्फूर्ति योजना 2020 ऑनलाइन आवेदन पात्रता PM Sfurti Scheme Application Form

Share it with your Friends

sfuti yojana 2020 apply online eligibility पात्रता पारम्परिक उद्योग फण्ड स्कीम की जानकारी UPSC स्फूर्ति योजना money for regeneration traditional industries in india PIB स्कीम ऑफ़ फण्ड फॉर रेगेनेरशन ऑफ़ ट्रेडिशनल इंडस्ट्री  avedan

स्फूर्ति योजना 2020 (Sfurti Yojana) Online Application Form

Latest News :- स्फूर्ति योजना के तहत सरकार 2019-2020 में कुल 100 क्लस्टर बनाने की योजना है, जिसमे 50 हज़ार ग्रामीण शिल्पकारों को आर्थिक वैल्यू चैन में शामिल होने के लिए समर्थ बनाया जायेगा। पूरी जानकारी नीचे दी गयी इमेज में देखे :-

स्फूर्ति योजना

स्फूर्ति योजना

MSME ने पारम्परिक उद्योग कारीगरों और ग्रामीण उद्यमियों के लिए स्थायी रोजगार प्रदान करने के लिए पारम्परिक उद्योगों को अधिक प्रतिस्पर्धा, बाजार संचालित, उत्पादक, लाभदायक और सक्षम बनाने की दृष्टि से वर्ष 2005 में स्फूर्ति योजना शुरू की है। MSME ने योजना के प्रचार के लिए 12वी पंचवर्षीय योजना के दौरान कुछ संशोधन के साथ बजट में वृद्धि का विस्तार किया।

इस योजना को शुरू करने का मकसद पारम्परिक उद्योगों के पर्यावरण के अनुकूल उत्पादों की महान क्षमता न केवल निर्यात और उत्पादन में वृद्धि के लिए है बल्कि देश के ग्रामीण क्षेत्रों में रोजगार के नए अवसर तथा व्यापक उत्पादन को बढ़ाने की क्षमता भी है। केंद्रीय सरकार ने उद्योगों में अधिक उत्पादकता और प्रतिस्पर्धा बनाने के लिए और उद्योगों के उत्थान के लिए 100 करोड़ रूपए आरम्भिक आवंटन के साथ स्थापित करने की घोषणा की है।

स्फूर्ति योजना 2020

स्फूर्ति योजना 2020

स्फूर्ति योजना का उद्देश्य

  • पारम्परिक उद्योगों और कारीगरों को समूहों में व्यवस्थित करने के लिए उन्हें प्रतिस्पर्धी बनाने और समर्थन प्रदान करने के लिए।
  • पारम्परिक उद्योग कारीगरों और ग्रामीण उद्यमियों के लिए निरंतर प्रदान करना।
  • नए उत्पादों, डिज़ाइन हस्तक्षेप और बेहतर पैकेजिंग और विपणन बुनियादी ढांचे में सुधर के लिए सहायता प्रदान करके समूहों के उत्पादों की विपणन क्षमता को आगे बढ़ाना।

PMSYM Scheme Online Registration 2019 प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना, Eligibility के लिए यहां क्लिक करें 

स्फूर्ति योजना के लाभार्थी

  • कारीगरों, श्रमिकों, मशीनरी निर्माताओं, कच्चे माल प्रदाताओं, उद्यमियों, संस्थागत और निजी व्यवसाय विकास सेवा(बीडीएस) प्रदाताओं।
  • कारीगर दोषी, सहकारी, संघ, उद्यमों के नेटवर्क, स्वयं सहायता समूह ( SHG), उद्यम सहयोगी आदि।
  • कार्यान्वयन करने वाली एजेंसियों, सरकारी संस्थाओं /संगठनों और नीति निर्माताओं के फील्ड कार्यकर्त्ता, सीधे पारम्परिक उद्योगों में लगे हुए है।

स्फूर्ति योजना की पात्रता

समूहों का चयन उनकी भौगौलिक एकाग्रता पर आधारित होगा जो एक जिले में एक या दो राजस्व उप- प्रभागों में स्थित कारीगरों /सूक्ष्म उद्यमों, कच्चे माल के आपूर्तिकर्ताओं, व्यापारियों, सेवा प्रदाताओं आदि के लगभग 500 लाभार्थी परिवार होने चाहिए।

वित्तीय सहायता

  • हेरिटेज़ क्लस्टर (1000 -2500 कारीगर) के लिए,8 करोड़ रूपए प्रदान किये जायेंगे।
  • महत्वपूर्ण समूहों (500 -1000 कारीगरों ) के लिए, 3 करोड़ रूपए प्रदान किये जायेंगे।
  • एक मिनी क्लस्टर (500 कारीगरों तक) के लिए, 50 करोड़ बजट की सीमा होगी।
  • एनेईआर / जम्मू और कश्मीर और पहाड़ी राज्यों के लिए प्रति क्लस्टर कारीगरों की संख्या में 50% की कमी होगी।

स्फूर्ति योजना के लिए आवेदन

कोयर क्षेत्र में काम करने वाले सरकारी संगठन / गैर सरकारी संगठन दिशानिर्देशों के अनुसार क्लस्टर स्थापित करने के लिए राज्य सरकार के लिए माध्यम से कोयर बोर्ड को निर्धारित रूप में आवेदन कर सकते है।

आवेदन फॉर्म डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें

http://coirboard.gov.in/wp-content/uploads/2014/07/Sfurti_Application.pdf

स्फूर्ति योजना की पूरी जानकारी के लिए यहां क्लिक करें

अगर आपको स्फूर्ति योजना से सम्बंधित कोई भी प्रश्न पूछना हो तो आप नीचे कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है , हमारी टीम आपकी मदद करने की पूरी कोशिश करेगी। अगर आपको हमारी ये जानकारी अच्छी लगी हो तो आप इसे अपने दोस्तों को भी शेयर कर सकते है ताकि वो भी इस योजना का लाभ उठा सके।

8 comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *