PM Jan Aushadhi Kendra Online Registration Form 2022

Share it with your Friends

pm jan aushadhi kendra online registration form 2022 at janaushadhi.gov.in, apply online or download PMBJP Kendra Opening Application Form PDF, प्रधानमंत्री जन औषधि योजना केंद्र खोलने के लिए ऑनलाइन आवेदन / रजिस्ट्रेशन करें

PM Jan Aushadhi Kendra Online Registration Form 2022

केंद्र सरकार ने लोगों को कम कीमत पर जेनेरिक दवाएं उपलब्ध कराने के लिए पीएम जन औषधि योजना शुरू की है। प्रधान मंत्री भारतीय जनऔषधि परियोजना के तहत कम लागत वाली जेनेरिक दवाएं निकटतम पीएमबीजेपी स्टोर पर उपलब्ध रहेंगी।

pm jan aushadhi kendra online registration form 2022

pm jan aushadhi kendra online registration form 2022

इच्छुक लोग जो एक नया जन औषधि केंद्र खोलना चाहते हैं, वे janaushadhi.gov.in पर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं, इस लेख में, हम आपको प्रधान मंत्री जन औषधि योजना के उद्देश्यों, मुख्य विशेषताओं और पूर्ण विवरण के बारे में बताएंगे और ऑनलाइन आवेदन कैसे करें और कैसे करें जन औषधि स्टोर खोलने के लिए PMBJP केंद्र पंजीकरण।

Also Read : Generic Medicines Store Locator 

प्रधानमंत्री भारतीय जनऔषधि परियोजना (पीएमबीजेपी) के उद्देश्य

सभी को सस्ती कीमतों पर गुणवत्तापूर्ण जेनेरिक दवाएं उपलब्ध कराने के उद्देश्य से, प्रधान मंत्री भारतीय जनऔषधि परियोजना (पीएमबीजेपी) औषधि विभाग, रसायन और उर्वरक मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा नवंबर, 2008 में शुरू की गई थी। इस योजना के तहत, समर्पित जनऔषधि केंद्र के रूप में जाने जाने वाले आउटलेट सस्ती कीमतों पर जेनेरिक दवाएं उपलब्ध कराने के लिए खोले गए हैं। 06.08.2021 तक, देश भर में 8012 जनऔषधि केंद्र कार्यरत हैं। पीएमबीजेपी के उत्पाद समूह में 1451 दवाएं और 240 सर्जिकल आइटम शामिल हैं। यह योजना सोसायटी पंजीकरण अधिनियम के तहत पंजीकृत एक सोसायटी द्वारा कार्यान्वित की जाती है, अर्थात, फार्मा एंड मेडिकल ब्यूरो ऑफ इंडिया (पीएमबीआई) [पूर्ववर्ती ब्यूरो ऑफ फार्मा पीएसयू ऑफ इंडिया (बीपीपीआई)]

  • आबादी के सभी वर्गों विशेषकर गरीबों और वंचितों के लिए गुणवत्तापूर्ण दवाओं तक पहुंच सुनिश्चित करना।
  • शिक्षा और प्रचार के माध्यम से जेनेरिक दवाओं के बारे में जागरूकता पैदा करें ताकि इस धारणा का मुकाबला किया जा सके कि गुणवत्ता केवल उच्च कीमत का पर्याय है।
  • पीएमबीजेपी केंद्र खोलने में व्यक्तिगत उद्यमियों को शामिल करके रोजगार पैदा करें।

प्रधानमंत्री जन औषधि योजना की मुख्य विशेषताएं

यह योजना सरकारी एजेंसियों के साथ-साथ निजी उद्यमियों द्वारा संचालित की जाती है: –

  • केंद्र मालिकों को प्रदान की जाने वाली प्रोत्साहन राशि को मौजूदा 2.50 लाख रुपये से बढ़ाकर 5.00 लाख रुपये कर दिया गया है, जो कि मासिक खरीदारी के 15% की दर से दी जाएगी, जो कि 15,000 रुपये प्रति माह की सीमा के अधीन है।
  • नीति आयोग द्वारा आकांक्षी जिले के रूप में उल्लिखित या महिलाओं द्वारा खोले गए पूर्वोत्तर राज्यों, हिमालयी क्षेत्रों, द्वीप क्षेत्रों और पिछड़े क्षेत्रों में खोले गए पीएमबीजेपी केंद्रों के लिए फर्नीचर और फिक्स्चर और कंप्यूटर और प्रिंटर के लिए 2.00 लाख रुपये का एकमुश्त प्रोत्साहन प्रदान किया जाना है। उद्यमी, दिव्यांग, एससी और एसटी।
  • जन औषधि दवाओं की कीमतें खुले बाजार में ब्रांडेड दवाओं की कीमतों की तुलना में 50% -90% कम हैं।
  • उत्पादों की गुणवत्ता सुनिश्चित करने के लिए केवल विश्व स्वास्थ्य संगठन – गुड मैन्युफैक्चरिंग प्रैक्टिस (डब्ल्यूएचओ-जीएमपी) प्रमाणित आपूर्तिकर्ताओं से दवाएं खरीदी जाती हैं।
  • सर्वोत्तम गुणवत्ता सुनिश्चित करने के लिए ‘नेशनल एक्रिडिटेशन बोर्ड फॉर टेस्टिंग एंड कैलिब्रेशन लेबोरेटरीज’ (NABL) द्वारा मान्यता प्राप्त प्रयोगशालाओं में दवा के प्रत्येक बैच का परीक्षण किया जाता है।

प्रधानमंत्री जन औषधि योजना के तहत नागरिकों को बचत

वित्त वर्ष 2020-21 के दौरान पीएमबीजेपी ने देश के आम नागरिकों की करीब 4,000 करोड़ रुपये की बचत हासिल की.

प्रधानमंत्री जन औषधि योजना का प्रभाव

पीएम जन औषधि योजना ने आम जनता को सस्ती कीमत पर गुणवत्तापूर्ण दवाएं उपलब्ध कराई हैं। दुकानों की संख्या 8,000 से अधिक हो गई है और सभी जिलों को कवर किया गया है। यह योजना स्थायी और नियमित आय के साथ स्वरोजगार का एक अच्छा स्रोत भी प्रदान कर रही है। प्रति स्टोर प्रति माह औसत बिक्री बढ़कर 1.50 लाख रुपये हो गई है (ओटीसी और अन्य उत्पादों सहित)। जैसा कि सरकार द्वारा भारत में जेनेरिक दवाओं के उपयोग को लोकप्रिय बनाने के लिए और कदम उठाए जा रहे हैं, बिक्री में वृद्धि होना तय है।

PMBJP केंद्र पंजीकरण – प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र ऑनलाइन आवेदन करें

यदि कोई उम्मीदवार पीएम जन औषधि केंद्र खोलना चाहता है तो वह नीचे दिए गए तरीके से पीएम जन औषधि स्टोर ऑनलाइन पंजीकरण कर सकता है:-

  • सबसे पहले फार्मास्युटिकल्स एंड मेडिकल डिवाइसेस ब्यूरो ऑफ इंडिया (पीएमबीआई) की आधिकारिक वेबसाइट http://janaushadhi.gov.in/ पर जाएं।
  • आधिकारिक होमपेज पर, “Go to Homepage” लिंक पर क्लिक करें: –
Go to Homepage

Go to Homepage

  • इस लिंक पर क्लिक करने पर पीएम भारतीय जन औषधि परियोजना का पेज खुलेगा:-

  • इस पृष्ठ पर, पीएम भारतीय जनऔषधि केंद्र के लिए ऑनलाइन आवेदन करने के लिए हेडर में मौजूद “Apply for PMBJK” लिंक पर क्लिक करें: –
Apply for PMBJK

Apply for PMBJK

  • सीधा लिंक – http://janaushadhi.gov.in/online_registration.aspx
  • बाद में, (पीएम भारतीय जन औषधि योजना (पीएमबीजेपी) केंद्र पंजीकरण पृष्ठ खुल जाएगा।
pm jan aushadhi kendra online registration form 2022

pm jan aushadhi kendra online registration form 2022

  • यहां जन औषधि योजना लॉगिन पेज खोलने के लिए अप्लाई ऑनलाइन लिंक पर क्लिक करें जो दिखाई देगा: –
login

login

  • सभी आवेदक यूजर आईडी, पासवर्ड, लॉग इन टाइप का उपयोग करके पीएमबीजेपी लॉगिन कर सकते हैं और पीएम जन औषधि योजना लॉगिन करने के लिए ‘Log In‘ विकल्प पर क्लिक कर सकते हैं। हालाँकि, नए उपयोगकर्ता को “Not Registered with BPPI / PMBJP? Registered Now” पर क्लिक करना होगा
  • बाद में, पीएम जन औषधि योजना ऑनलाइन पंजीकरण फॉर्म दिखाई देगा: –
pm jan aushadhi kendra online registration form 2022

pm jan aushadhi kendra online registration form 2022

  • आवेदक सभी विवरण सटीक रूप से दर्ज कर सकते हैं और जन औषधि केंद्र ऑनलाइन पंजीकरण फॉर्म भरने के लिए “Submit” बटन पर क्लिक कर सकते हैं और फिर शेष आवेदन प्रक्रिया को पूरा करने के लिए लॉगिन कर सकते हैं।

पीएमबीजेपी केंद्र खोलने के आवेदन पत्र के साथ 5000 रुपये का गैर-वापसी योग्य आवेदन शुल्क जमा किया जाना है। आवेदन शुल्क लागू नहीं है यदि आवेदक महिला उद्यमियों, दिव्यांग, अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति और नीति आयोग द्वारा अधिसूचित महत्वाकांक्षी जिलों के किसी भी उद्यमी, हिमालयी, द्वीप क्षेत्रों और उत्तर पूर्वी राज्यों में श्रेणी के अंतर्गत आता है।

Also Read : National Digital Health Mission 

प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र आवेदन पत्र पीडीएफ डाउनलोड

पीएम जन औषधि केंद्र आवेदन पत्र पीडीएफ http://janaushadhi.gov.in/Data/PMBJKs%20new%20form.pdf डाउनलोड करने का सीधा लिंक यहां दिया गया है। पीएम भारतीय जनऔषधि परियोजना केंद्र खोलने का आवेदन फॉर्म दिखाई देगा: –

pm jan aushadhi kendra online registration form 2022

pm jan aushadhi kendra online registration form 2022

आवेदक पीएम जन औषधि केंद्र आवेदन पत्र पीडीएफ डाउनलोड कर सकते हैं, इसे भर सकते हैं और संबंधित अधिकारियों को अपने आस-पास के क्षेत्रों में एक नया पीएमबीजेपी केंद्र खोलने के लिए अनुमोदन प्राप्त करने के लिए जमा कर सकते हैं।

प्रधानमंत्री जन औषधि योजना (PMJAY) – कौन खोल सकते हैं

प्रधानमंत्री जन औषधि योजना (PMJAY) भारत सरकार द्वारा चलायी जा रही एक बहुत ही उपयोगी योजना है जिसके तहत सरकार आम जनता को कम दामों पर गुणवत्तापूर्ण जेनेरिक दवाइयां उपलब्ध करवाने पर जोर दे रही है। इस योजना के तहत दवाओं के वितरण के लिए पूरे देश भर के विभिन्न जिलों में स्टोर अथवा जन औषधि केंद्र खोले जा रहे हैं।
यदि आप एक योग्य उम्मीदवार हैं तो आप भी अपने शहर में जन औषधि केंद्र खोलकर अपना रोजगार शुरू कर सकते हैं। PMJAY के तहत जन औषधि केंद्र खोलने के लिए सरकार की तरफ से लोगों को करीब 2.5 लाख रुपये की सहायता दी जा रही थी जिसे अब बढाकर 5 लाख रुपये कर दिया गया है। इस प्रोत्साहन राशि को एक महीने में ख़रीदे जाने वाले सामान की राशि के 15% प्रति महीने (ज्यादा से ज्यादा 15,000 प्रति माह) की दर से दिया जाएगा।

जन औषधि केंद्र के लिए B-फार्मा और S-फार्मा पास युवाओं को मौके दिए जाने थे हालांकि अब इसे दूसरे लोगों के लिए भी खोल दिया गया है। नए जन औषधि स्टोर खोलने के लिए आप भी अप्लाई कर सकते हैं। यदि आप सरकार की शर्तों पर खरे उतरते हैं तो हर माह आसानी से 25 हजार रुपए कमा सकते हैं।

  • SC, ST, एवं दिव्यांग आवेदकों को Jan Aushadhi केंद्र खोलने के लिए 50,000 रूपये तक की दवाइयां अग्रिम रूप से दी जायेंगी।
  • जनऔषधि सेंटर खोलने के लिए सरकार ने 3 कैटेगरी बनाई हैं।
  • पहली कैटेगरी में कोई भी व्यक्ति, बेरोजगार फार्मासिस्ट, डॉक्टर, रजिस्टर्ड मेडिकल प्रैक्टिशनर स्टोर खोल सकेगा।
  • दूसरी कैटेगरी में ट्रस्ट, NGO, प्राइवेट हॉस्पिटल, सोसायटी और सेल्फ हेल्प ग्रुप को स्टोर खोलने का मौका मिलेगा।
  • वहीं तीसरी कैटेगरी में राज्य सरकारों द्वारा नॉमिनेट की गई एजेंसी होगी।
  • दुकान खोलने के लिए 120 वर्गफुट एरिया में दुकान होनी जरूरी है।
  • सेंटर खोलने वालों को सरकार की ओर से 1451 से ज्यादा दवाएं उपलब्ध कराई जाएंगी।

प्रधानमंत्री जन औषधि योजना (PMJAY) के लिए जरूरी दस्तावेज

  • आधार कार्ड एवं पैन कार्ड जरूर होना चाहिए।
  • अगर कोई गैर सरकारी संगठन (NGO), फार्मासिस्ट, डॉक्टर, और मेडिकल प्रैक्टिशनर जन औषधि केंद्र खोलने के लिए आवेदन करता है तो उसे आधार, पैन, संस्था बनाने का सर्टिफिकेट एवं उसका रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट देना होगा।
  • PMJAY के तहत औषधि केंद्र खोलने के लिए आपके पास कम से कम 120 वर्गफीट की जगह होनी चाहिए।
    आप चाहे तो किराये पे भी ले सकते हैं।

प्रधानमंत्री जन औषधि योजना (PMJAY) केंद्र के लाभ

  • दवा के प्रिंट रेट पर 20% तक का मुनाफा मिलेग़ा।
  • दो लाख रुपये तक की वित्तीय मदद मिलेगी।
  • PMJAY के तहत खोले गए जन औषधि केंद्र को 12 महीने की बिक्री का 10% अतिरिक्त इंसेंटिव दिया जायेगा और यह रकम अधिकतम 10000 रुपये हर महीने मिलेगी।
  • उत्तर पूर्वी राज्य व नक्स्ल प्रभावित इलाके और आदिवासी क्षेत्रों में यह इंसेंटिव 15% हो सकती है यह रकम हालांकि अधिकतम 10000 रुपये हर महीने मिलेगी।

इस योजना की अधिक जानकारी के लिए इसकी आधिकारिक वेबसाइट janaushadhi.gov.in पर जाएँ या फिर नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके PDF को डाउनलोड करें।

पीडीएफ डाउनलोड करें: http://janaushadhi.gov.in/pdf/State_PMBJP.pdf

Click Here to Ayushman Bharat Yojana Registration

सरकारी योजनाओं की जानकारी के लिए रजिस्ट्रेशन करें यहाँ क्लिक करें
फेसबुक पेज को लाइक करें (Like on FB) यहाँ क्लिक करें
टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिये (Join Telegram Channel) यहाँ क्लिक करें
इंस्टाग्राम पर हमें फॉलो करें (Follow Us on Instagram) यहाँ क्लिक करें
सहायता/ प्रश्न के लिए ई-मेल करें @ [email protected]

Press CTRL+D to Bookmark this Page for Updates

अगर आपको PM Jan Aushadhi Kendra Online Registration Form से सम्बंधित कोई भी प्रश्न पूछना हो तो आप नीचे कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है , हमारी टीम आपकी मदद करने की पूरी कोशिश करेगी। अगर आपको हमारी ये जानकारी अच्छी लगी हो तो आप इसे अपने दोस्तों को भी शेयर कर सकते है ताकि वो भी इस योजना का लाभ उठा सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published.