PM Kusum Yojana 2019 कुसुम योजना ऑनलाइन आवेदन

Share with your Friends

pm kusum yojana 2019 online application form eligibility solar pump loan subsidy in hindi kisan urja suraksha utthan mahabhiyan kusum solar pump yojana online registration apply online for pump set subsidy scheme कुसुम योजना किसान ऊर्जा सुरक्षा व उत्थान अभियान योजना 2020 सौर कृषि कुसुम योजना प्रधानमंत्री कुसुम योजना check registration process & pib official notification solar agricultural pumps for subsidy

PM Kusum Yojana (कुसुम योजना) 2019

Latest News :- प्रधानमंत्री कुसुम योजना के तहत उत्तर प्रदेश में 0.5 से लेकर 2 मेगावॉट क्षमता तक के सोलर पावर प्लांट लगाए जायेंगे। पहले चरण में यह योजना बंजर व अकृषि योग्य भूमि पर लागू होगी। पूरी जानकरी के लिए नीचे को देखें :-

pm kusum yojana

भारत सरकार ने बजट 2018 में देश के नागरिकों के लिए कई योजनाओं की घोषणा की है। केंद्र सरकार के वित्त मंत्री श्री अरुण जेटली ने बजट 2018-19 में देश के नागरिकों के लिए बनाई गयी महत्वाकांक्षी योजनाओं की घोषणा की। इन योजनाओं में सबसे ज्यादा ध्यान देश के किसानों का रखा गया है। घोषणा की गयी योजनाओं में से कुसुम योजना भी एक महत्वपूर्ण योजना है। इस योजना के अंतर्गत किसान अपनी भूमि पर सौर ऊर्जा संयंत्र लगा सकते है। सौर ऊर्जा लगाने के लिए आने वाले खर्चे का 60% हिस्सा केंद्र सरकार द्वारा दिया जायेगा। यदि आपका खर्चा 1 लाख रूपए आता है तो सरकार द्वारा आपको 60 हज़ार रूपए वित्तीय सहायता के रूप में दिए जायेंगे।

pm kusum yojana
pm kusum yojana

भारत में 75 फीसदी से भी ज्यादा लोग खेती करते है। देश की अर्थव्यवस्था किसाओं पर ही निर्भर है लेकिन ग्रामीण क्षेत्रों में किसानों को फसल बोने, सिंचाई करने, बीज लेने आदि के लिए बैंक या साहूकार से लोन लेना पड़ता है। यदि फसल अच्छी हो जाती है तो किसानों को कम समस्याओं का सामना करना पड़ता है। किसानों किसानों को सिंचाई उपलब्ध पानी की कमी के कारण समस्याएं आती है। यह योजना किसानों को सौर ऊर्जा के प्रभावी उपयोग के लिए उपकरणों को स्थापित करने के लिए प्रोत्साहित करेगी। सरकार पहले चरण में किसानों को 17.5 लाख पंप मुहैया कराएगी। 2022 तक लक्षित 3 करोड़ सौर संयंत्रों की स्थापना की कुल लागत 1.4 लाख करोड़ रूपए होगी जिसमे से सरकार 48000 करोड़ रूपए प्रदान करेगी।

पीएम किसान पेंशन योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन के लिए यहां क्लिक करें

योजना का नाम किसान ऊर्जा सुरक्षा उत्थान महाअभियान (कुसुम योजना)
विभाग Ministry of New & Renewable Energy
लाभार्थी सभी किसान
घोषणा 2 फरवरी

कुसुम योजना का उद्देश्य

  • कु सुम योजना के तहत 2022 तक देश में तीन करोड़ पंपों को बिजली या डीजल की जगह सौर ऊर्जा से चलाया जाएगा।
  • कुसुम योजना पर कुल लागत 1. 40 लाख करोड़ आएगी जिसमे केंद्र सरकार 48 हजार करोड़ का योगदान देगी जबकि इतनी ही राशि राज्य सरकार देगी।
  • किसानों को लागत का सिर्फ 10 फीसदी खर्च उठाना होगा जबकि 48 हजार करोड़ का इंतजाम बैंक लोन से किया जायेगा।
  • पहले चरण में डीजल से चलने वाले पंपो को शामिल गया है। ऐसे 17. 5 लाख सिंचाई पंपों को सौर ऊर्जा से चलाने की व्यवस्था की जाएगी जिससे डीजल खपत कम होगी।
  • इस योजना का उद्देश्य किसान को दोहरा फायदा देना है। एक तो किसान को सिंचाई के लिए मुफ्त बिजली मिलेगी दूसरा यदि किसान बनाकर ग्रिड को भेजते है तो उन्हें उसकी कीमत भी मिलेगी।
  • योजना के अंतर्गत देश में 3 करोड़ पम्पों को सौर ऊर्जा से चलाने का लक्ष्य रखा गया है।
  • कुसुम योजना 2019 से 28000 मेगावाट की अतिरिक्त बिजली का उत्पादन किया जाएगा।

कुसुम योजना के लाभ

  • किसानों को सौर ऊर्जा संयंत्र लगाने में केवल 10 % राशि का अग्रिम भुगतान करना होगा।
  • केंद्र सरकार सीधे किसानों के बैंक खातों में सब्सिडी भेजेगी जिससे किसानों को किसी प्रकार की समस्या नहीं होगी।
  • इस योजना से बंजर पड़ी भूमि का भी उपयोग होगा।
  • बैंक किसानों को बैंक ऋण के रूप में कुल व्यय का 30 % हिस्सा प्रदान करेगी।
  • सरकार द्वारा सब्सिडी के रूप में संयंत्र की कुल लागत का 60% हिस्सा प्रदान करेगी।
  • इस योजना से सौर ऊर्जा को बढ़ावा मिलेगा।
  • योजना के संचालन से बिजली की बचत होगी और इसके साथ ही ईंधन की बचत होगी।
  • किसान कम लागत में अपनी फसलों की सिंचाई कर सकेंगे।

कुसुम योजना के लिए पात्रता

  • आवेदक किसान होना चाहिए।
  • आधार कार्ड होना अनिवार्य है।
  • आवेदक का बैंक अकाउंट नंबर भी होना चाहिए।

कुसुम योजना के घटक

किसान ऊर्जा एवं उत्थान महाभियान योजना में 4 घटक है जो कि निम्नानुसार है :-

  • सबसे पहले, सरकार किसानों की बंजर भूमि पर 10,000 मेगावाट सौर ऊर्जा संयंत्र स्थापित करेगी।
  • सरकार उत्पन्न अतिरिक्त ऊर्जा खरीदने के लिए डिस्कॉम (DISCOMS) प्रोत्साहित करेगी। उत्पन्न ऊर्जा खरीदने के लिए सरकार प्रति यूनिट 50 पैसे प्रदान करेगी। यह योजना किसानों को ग्रिड में अपनी अतिरिक्त ऊर्जा बेचने में सक्षम बनती है जिससे अतिरिक्त आय उत्पन्न होती है। इस घटक में 4875 करोड़ रूपए की सब्सिडी शामिल होगी।
  • केंद्र सरकार किसानों को 17.5 लाख सौर कृषि पंप सेट (Agriculture Pumps Sets) वितरित करेगी। सौर ग्रिड पंप खरीदने के लिए सब्सिडी घटक 22000 करोड़ रूपए है।
  • सरकार 15,750 करोड़ रूपए के साथ 7250 मेगावॉट क्षमता वाले मौजूदा कृषि पंप सेट को स्थापित करेगी और 4800 करोड़ रूपए के सब्सिडी घटक के साथ 8250 मेगावॉट क्षमता के कई सरकारी ट्यूब कुँए भी।

कुसुम योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन

  • कुसुम योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन करने के लिए सबसे पहले आपको आधिकारिक वेबसाइट https://mnre.gov.in/ पर जाना होगा।
  • मुखपृष्ठ पर, “आवेदन करें” लिंक पर क्लिक करें
  • बाद में, कुसुम योजना ऑनलाइन पंजीकरण फॉर्म नीचे दिखाया गया है: –
pm kusum yojana
pm kusum yojana
  • यहां उम्मीदवार किसानों के नाम, मोबाइल नंबर, ई-मेल आईडी और अन्य विवरण सहित पूरा विवरण दर्ज कर सकते हैं और कुसुम योजना पंजीकरण प्रक्रिया को पूरा करने के लिए “सबमिट” बटन पर क्लिक कर सकते हैं।
kusum yojana online registration
kusum yojana online registration
  • अगले उम्मीदवार सौर कृषि पंपसेट सब्सिडी योजना के लिए लॉगिन के लिए कुसुम योजना होमपेज पर क्लिक कर सकते हैं
kusum yojana login home page
kusum yojana login home page
  • होमपेज पर कुसुम योजना लॉगिन करने के बाद, उम्मीदवार सौर कृषि पंपों पर सब्सिडी का लाभ उठाने के लिए कुसुम योजना ऑनलाइन आवेदन पत्र भर सकते हैं।

कुसुम योजना की अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें

अगर आपको कुसुम योजना से सम्बंधित कोई भी प्रश्न पूछना हो तो आप नीचे कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है , हमारी टीम आपकी मदद करने की पूरी कोशिश करेगी। अगर आपको हमारी ये जानकारी अच्छी लगी हो तो आप इसे अपने दोस्तों को भी शेयर कर सकते है ताकि वो भी इस योजना का लाभ उठा सके।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *