Kisan Credit Card Loan Scheme 2020 Eligibility, Benefits Interest Rate

Share it with your Friends

kisan credit card scheme 2020 किसान क्रेडिट कार्ड लोन स्कीम पात्रता योग्यता केसीसी इंटरेस्ट रेट कैलकुलेटर Kisan Credit Card Loan Scheme 2020 Eligibility, Benefits KCC Interest Rate in hindi Loan Payment method KCC Application Form

किसान क्रेडिट कार्ड kisan credit card scheme 2020 (केसीसी)

महत्वपूर्ण जानकारी : खुशखबरी !!  हाल ही में आत्मनिर्भर भारत अभियान में, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने 2 लाख करोड़ रुपये की घोषणा की है कि किसान क्रेडिट कार्ड (केसीसी) योजना के लिए अधिक रियायती ऋण बढ़ाया जाएगा। इस केसीसी योजना से लगभग 2.5 करोड़ किसान लाभान्वित होंगे। मत्स्य पालन और पशुपालन करने वाले किसानों को केसीसी योजना में शामिल किया जाएगा।

किसानों के अल्पकालिक फसली ऋण के भुगतान की अवधि 31 मई तक बढ़ा दी गयी है। ऋण पर दो फीसद की ब्याज माफ़ी और तीन फीसद का तत्काल भुगतान प्रोत्साहन लाभ किसानों को मई तक प्राप्त होगा। अधिक जानकारी नीचे दी हुयी है….

Click Here for PM Fasal Bima Yojana Apply Online 2020 PMFBY प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना

किसान सम्मान निधि पाने वाले प्रत्येक किसान को मुफ्त किसान क्रेडिट कार्ड दिया जाएगा। अब पशु और मत्स्य पालकों को भी किसान क्रेडिट कार्ड का लाभ दिया जाएगा। इससे किसान फसलों के लिए बीज पानी व खाद के लिए बैंकों से ऋण ले सकेंगे। इसके लिए अभियान चलाया जाएगा। पूरी जानकारी नीचे दी हुयी है….

उत्तर प्रदेश में अब किसानों के लिए क्रेडिट कार्ड (Kisan Credit Card) एक दिन में बनेगा। इसके लिए सितम्बर महीने से बैंकों में कैंप लगाकर विशेष अभियान चलाया जाएगा। इसके लिए किसानों को केवल अपनी खसरा और खतौनी लेकर जाना होगा । पूरी जानकारी नीचे दी हुयी है…

Now Fishery Farmers (मत्स्य पालक किसान ) will be provided benefits of Kisan Credit Card. Interested Farmers can apply for KCC till 30 September, 2019 & get Loan of Rs. 1.5 -2 Lakh. Read full news below…

कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही जी ने अभियान चलकर नए 30 लाख किसान क्रेडिट कार्डों को बनाये जाने का निर्देश दिया हैं। जिससे वर्ष 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने में सहायता मिले । KCC के लिए अभियान 02 से 31 जुलाई तक चलाया जाएगा जो किसान अभी इस KCC कार्ड से वंचित हैं वो आवेदन कर सकते हैं…. 

Check PM Kisan Samman Nidhi Yojana 2020 Online Application Form -pmkisan.nic.in
kisan credit card scheme 2020

kisan credit card scheme 2020

किसान क्रेडिट कार्ड (KCC) भारत सरकार द्वारा एक पहल है ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि देश के किसानों को सस्ती दर पर ऋण उपलब्ध हो। यह योजना अगस्त 1998 में ऋण और कृषि कल्याण पर इनपुट के लिए गठित एक विशेष समिति की सिफारिशों के आधार पर शुरू की गई थी। केसीसी को किसान क्रेडिट कार्ड ऋण के रूप में भी संदर्भित किया जा सकता है क्योंकि यह किसानों को खेती, फसल और खेत के रखरखाव की लागत को कवर करने के लिए टर्म लोन प्रदान करता है। आइए जानें किसान क्रेडिट कार्ड ऋण कैसे काम करता है और इसके लाभ के बारे में अधिक जानें।

किसान क्रेडिट कार्ड का उद्देश्य

किसानों को उनकी ऋण की आवश्‍यकताओं (कृषि संबंधी खर्चों ) की पूर्ति के लिए पर्याप्‍त एवं समय पर ऋण की सुविधा प्रदान करना साथ ही आकस्‍मिक खर्चों के अलावा सहायक कार्यकलापों से संबंधित खर्चौ की पूर्ति करना। यह ऋण सुविधा एक सरलीकृत कार्यविधि के माध्‍यम से यथा आवश्‍यकता आधार पर प्रदान की जाती है।

किसान क्रेडिट कार्ड के लिए पात्रता

  1. सभी किसानों – एकल/ संयुक्‍त उधारकर्ता जो कि स्‍वामित्‍वधारी कृषक हैं।
  2. किराए के काश्‍तकार, जुबानी पट्टाधारी एवं सांझा किसान इत्‍यादि
  3. स्‍व सहायता समूह या संयुक्‍त दायित्‍व समूह के किसान जिसमें किराए के काश्‍तकार, सांझा किसान शामिल हैं इत्यादि
kisan credit card scheme 2020

kisan credit card scheme 2020

kisan credit card scheme 2020 ऋण की राशि

  1. पहले वर्ष के लिए अल्‍पावधि ऋण सीमा प्रदान की गई है जो कि प्रस्‍तावित फसल पद्धति एवं वित्‍त के मान के अनुसार उगाई गई फसलों पर आधारित होगी।
  2. कृषि आस्‍तियों,फसल बीमा, वैयक्‍तिक दुर्घटना बीमा योजना (पीएआईएस) एवं आस्‍ति बीमा के रखरखाव संबंधी खर्चों।
  3. प्रत्‍येक अगले वर्षों (दूसरे, तीसरे, चौथे वर्ष) में यह सीमा 10%की दर से बढा दी जाएगी (पॉंचवे वर्ष के लिए किसानों को अल्‍पावधि ऋण की सीमा पहले वर्ष से लगभग 150%अधिक की स्‍वीकृति दी जाएगी)
  4. केसीसी की सीमा का निर्धारण करते समय कृषि यंत्रों /उपकरणों आदि के रूप में छोटी राशियों की निवेश की आवश्‍यकताएं (जैसे स्‍प्रेयर, हल आदि) जो कि एक वर्ष की अवधि में देय होगी को शामिल किया जाएगा। ( ऋण के इस हिससे को दूसरे से पॉंचवे वर्ष के दौरान स्‍वत: आधार पर शामिल नहीं किया जाएगा परन्‍तु संबंधित वर्ष के लिए अधिकतम आहरण सीमा की गणना करते समय प्रत्‍येक वर्ष में इस अंश के लिए ऋण की आवश्‍यकता को शामिल किया जाएगा।

किसान क्रेडिट कार्ड की विशेषताएं

  1. केसीसी के उधारकर्ता को एक एटीएम सह डेबिट कार्ड जारी किया जाएगा (स्‍टेट बैंक किसान डेबिट कार्ड) ताकि वे एटीएमों एवं पीओएस टर्मिनलों से आहरण कर सकें।
  2. किसान क्रेडिट कार्ड एक विविध खाते के स्‍वरूप का होगा। इस खाते में कोई जमा शेष रहने की स्‍थिति में उस पर बचत खाते के समान ब्‍याज मिलेगा ।
  3. केसीसी में 3 लाख रु तक की राशि पर प्रसंस्‍करण शुल्‍क नहीं लगाया जाता है।
  4. निम्‍नलिखित के लिए संपार्श्‍विक प्रतिभूति में छूट दी गई है: I :- 1 लाख रूपये तक की सीमा पर. II:- 3 लाख रूपये तक के ऋणों की सीमाओं के लिए जिनके संबंध में वसूली के लिए गठबंधन व्‍यवस्‍था की गई है।
  5. केसीसी खातों का वार्षिक आधार पर नवीकरण करना आवश्‍यक है जो कि उपर्युक्‍त देय तारीखों से काफी पहले किया जाना आवश्‍यक है ताकि 5 वर्षों के लिए सतत आधार पर इसकी ऋण सीमा को जारी रखा जा सके। अत: शाखाओं को सुनिश्‍चित करना होगा कि वे यथा आवश्‍यकता परिसीमन अधिनियम के तहत 3 वर्षों की समाप्‍ति के पूर्व नवीकरण पत्र प्राप्‍त कर ले ।
  6. इस नवीकरण के उद्देश्‍य को ध्‍यान में रखते हुए वर्तमान अनुदेशों के अनुसार शाखाएं (उगाई गई फसलों / प्रस्‍तावित फसलों के संबंध में) संबंधित उधारकर्ताओं से एक साधारण-सा घोषणा-पत्र प्राप्‍त कर लें। केसीसी उधारकर्ताओं की संशोधित एमडीएल आवश्‍यकताओं का निर्धारण प्रस्‍तावित फसल की पद्धति एवं उनके द्वारा घोषित क्षेत्रफल के आधार पर किया जाएगा।
  7. पात्र फसलों को फसल बीमा योजना- राष्‍ट्रीय कृषि बीमा योजना (एनएआईएस) के अंतर्गत कवर किया जाएगा।

लोन का भुगतान

खरीफ(एकल) (1 अप्रैल से 30 सितम्‍बर ) – 31 जनवरी

रबी(एकल) (1 अक्‍तूबर से 31 अक्‍तूबर) – 31 जुलाई

दोहरी/विविध फसलों (खरीफ एवं रबी फसलों) – 31 जुलाई

दीर्घावधि फसलों ( वर्ष भर) – 12 माह (पहले संवितरण की तारीख से )

उधारकताओं को चुकौती तारीख के अंतर्गत अपनी कृषि आय या अन्‍य जमाओं को केसीसी खाते में जमा करना होता है जो कि ब्‍याज एवं अन्‍य प्रभारों के साथ एक न्‍यूनतम ऋण राशि के बराबर होना चाहिए।

आप विभिन्न बैंक की वेबसाइट पर किसान क्रेडिट कार्ड कैलकुलेटर का उपयोग करके अपनी लोन की पात्रता चेक कर सकते हैं|
उदाहरण के लिए :-

आईसीआईसीआई बैंक किसान क्रेडिट कार्ड कैलकुलेटर

किसान क्रेडिट कार्ड की ब्याज की दरें

किसान क्रेडिट कार्ड ऋण ब्याज दर आरबीआई द्वारा निगरानी की जाती है और यह आमतौर पर बेस रेट के अनुरूप होता है।

ऋण पर ब्याज के अलावा, कुछ अन्य अतिरिक्त शुल्क योजना में शामिल हैं। इनमें प्रोसेसिंग फीस, बीमा प्रीमियम आदि शामिल हैं। हालांकि, कई मामलों में कर्ज देने वाले संस्थान किसानों के हित के लिए इन शुल्कों को माफ कर देते हैं। उदाहरण के लिए, एसबीआई 3 लाख के मूल्य तक ऋण के लिए कोई प्रोसेसिंग शुल्क नहीं लेता है।

किसान क्रेडिट कार्ड के लिए कैसे करें आवेदन

भारत में कई सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों, सहकारी बैंकों और ग्रामीण बैंकों द्वारा किसान क्रेडिट कार्ड की पेशकश की जाती है। किसान क्रेडिट कार्ड के लिए आप किसी भी बैंक में जाकर संपर्क कर सकते है।

Direct Link to Download Form : https://pmkisan.gov.in/Documents/Kcc.pdf

PM-Kisan Helpline No. 155261 / 1800115526 (Toll Free), 0120-6025109

किसान क्रेडिट कार्ड स्कीम के बारे में नवीनतम अपडेट के लिए हमारी वेबसाइट (www.sarkariyojnaye.com) के साथ संपर्क में रहें। तत्काल अपडेट प्राप्त करने के लिए इस पृष्ठ को बुकमार्क करें (CTRL + D दबाएं)। किसी भी प्रश्न/ सहायता के लिए नीचे दिए गए बॉक्स में एक टिप्पणी छोड़ दें। आप हमारे फेसबुक पेज (www.facebook.com/sarkariyojnaye247) पर भी एक संदेश छोड़ सकते हैं या disha@sarkariyojnaye.com पर एक मेल छोड़ सकते हैं।