Himachal Pradesh Sahara Yojana 2020 स्वास्थ्य उपचार मासिक भत्ता

Share it with your Friends

himachal pradesh sahara yojana 2020 हिमाचल प्रदेश सहारा योजना स्वास्थ्य उपचार मासिक भत्ता health treatment scheme for poor patients hp 2000 rs. per month for poor patients कमजोर वर्गों के उपचार के लिए एचपी मुख्यमंत्री सहारा योजना hp sahara yojana himachal pradesh sahara yojana application form hp health treatment scheme

Himachal Pradesh Sahara Yojana 2020

Latest Update : कमजोर वर्गों के उपचार के लिए हिमाचल प्रदेश सरकार ने शुरू करी सहारा योजना, राज्य सरकार कैंसर, पारकिनसन, पैरालिसिस, मस्कुलर डिस्ट्रॉफी, थैलेसिमिया, हिमोफिलिया और रेनल फेलियर जैसी गंभीर बीमारियों से ग्रसित व्यक्तियों को प्रति माह 3000 रुपये की आर्थिक मदद देगी

हिमाचल प्रदेश सरकार द्वारा एचपी सहारा योजना ऑफ़लाइन आवेदन अब 11 सितंबर 2020 को शुरू किया गया है। इस योजना में, राज्य सरकार गंभीर बीमारियों से पीड़ित लोगों को प्रति माह 3,000 रुपये प्रदान करेगी। एचपी सहारा योजना पैरालिसिस, पार्किंसंस, कैंसर, मस्कुलर डिस्ट्रॉफी, हीमोफिलिया, थैलेसीमिया और रीनल फेल्योर जैसी विशिष्ट गंभीर बीमारियों को कवर करेगी। राज्य सरकार। आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों (ईडब्ल्यूएस) श्रेणी से संबंधित रोगियों को वित्तीय सहायता प्रदान करेगा।

himachal pradesh sahara yojana 2020

himachal pradesh sahara yojana 2020

यह सहारा योजना हिमाचल प्रदेश के बजट 2019-20 में गरीब रोगियों को चिकित्सा के लिए सहायता प्रदान करने के लिए घोषित की गई थी। एचपी सहारा योजना के माध्यम से, लोग पुरानी बीमारियों के लंबे समय तक इलाज के दौरान आने वाली कठिनाइयों को पूरा करने में सक्षम होंगे। हिमाचल प्रदेश राज्य सरकार ने पहले बजट 2019-20 में स्वास्थ्य सेवा योजना के लिए 2,482 करोड़ रुपये आवंटित किए थे। अब यह योजना वित्त वर्ष 2020-21 में भी लोगों को लाभान्वित करती रहेगी।

योजना का नामहिमाचल प्रदेश सहारा योजना
लॉन्च तारीख11 September 2020
सहायता राशिRs. 36,000 per annum
कार्यान्वयन वर्षFY 2020-21
विभागस्वास्थ्य और परिवार कल्याण विभाग
लाभार्थीआर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के लोग


सहारा योजना के अंतर्गत आने वाली बीमारियां

सहारा योजना के अंतर्गत सरकार 7 बीमारियों की आर्थिक सहायता प्रदान करेगी।

  • पैरलिसिस (Paralysis)
  • कैंसर (Cancer)
  • पारकिनसन (Parkinson)
  • मस्क्युलर डाइस्ट्रफी (Muscular Dystrophy)
  • तलशसेमिया (Sthalassemia)
  • हेमोफिलिया (Hemophilia)
  • लिवर फेल्यूर (Liver failure)

हिमाचल प्रदेश अनुभव सेवा योजना के लिए आवेदन के लिए यहाँ क्लिक करें

एचपी सहारा योजना के लाभ

  • हिमाचल प्रदेश सहारा योजना 2020 के अंतर्गत गरीब लोगो को अपनी गंभीर बीमारी के इलाज के लिए राज्य सरकार द्वारा प्रतिमाह 2000 रूपये की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी ।
  • पहले चरण में कम से कम 6,000 मरीजों को लाभ प्रदान किया जायेगा जो कि इन गंभीर बिमारियों के शिकार हैं।
  • इसके साथ ही लाभ प्राप्त करने वाले मरीजों को रेफर करने की ऑनलाइन मोनिटरिंग का भी प्रावधान इस योजना में रखा गया हैं।
  • राज्य सरकार ने एच.आई.पी/एड्स से पीड़ित मरीजों के भत्ते को बढ़ाकर 1,500 रुपये प्रतिमाह कर दिया है।
  • इस योजना के तहत सरकार द्वारा दी जाने वाली धनराशि सीधे लाभार्थी के बैंक अकाउंट में ट्रांसफर की जाएगी इसलिए आवेदक का बैंक अकाउंट होना चाहिए और बैंक अकाउंट आधार से लिंक होना चाहिए ।

मुख्यमंत्री कन्यादान योजना एप्लीकेशन फॉर्म के लिए यहाँ क्लिक करें

एचपी सहारा योजना के लिए पात्रता

जो लोग हिमाचल प्रदेश सहारा योजना के लाभार्थी बनना चाहते है तो उन्हें निम्नलिखित पात्रता को पूरा करना होगा :-

  • आवेदक हिमाचल प्रदेश का स्थायी निवासी होना चाहिए।
  • उम्मीदवार आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग से हो।
  • सभी स्रोतों से आवेदक की वार्षिक आय 4 लाख रुपए से अधिक नहीं होनी चाहिए।
  • इसके साथ साथ आवेदक को अपनी निदान को साबित करना होगा।

हिमाचल प्रदेश भू नक्शा ऑनलाइन मैप देखने के लिए यहाँ क्लिक करें

हिमाचल प्रदेश सहारा योजना के आवेदन के लिए आवश्यक दस्तावेज

सहारा योजना में आवेदन के लिए निम्नलिखित दस्तावेजों का होना आवश्यक है :-

  • जन्म प्रमाण पत्र
  • रोग का प्रमाण पत्र
  • परिवार का आय प्रमाण पत्र
  • निवास प्रमाण पत्र
  • राशन कार्ड
  • ट्रीटमेंट रिकॉर्ड
  • आधार कार्ड
  • बैंक पासबुक की फोटोकॉपी

हिमाचल प्रदेश सहारा योजना ऑफलाइन आवेदन

हिमाचल प्रदेश में इस सहारा योजना की महत्वपूर्ण विशेषताएं और विशेषताएं इस प्रकार हैं: –

  • चिकित्सा उपचार के लिए, सरकार ईडब्ल्यूएस श्रेणी के रोगियों को प्रति माह 3,000 रुपये प्रदान करेगी।
  • पक्षाघात, पार्किंसंस, कैंसर, मांसपेशियों की डिस्ट्रोफी, हेमोफिलिया, थैलेसीमिया जैसी गंभीर बीमारियां शामिल हैं। इसके अलावा, पुरानी गुर्दे की विफलता या कोई अन्य बीमारी जो किसी व्यक्ति को स्थायी रूप से अक्षम कर देती है, उसमें शामिल हैं।
  • मुख्य उद्देश्य लंबे समय तक इलाज के दौरान आने वाली कठिनाइयों को दूर करने के लिए घातक बीमारियों से पीड़ित गरीब रोगियों की सहायता करना है।
  • पहले चरण में, लगभग 9,471 रोगियों को कवर किया गया था, जिसके लिए वित्त वर्ष 2019 में 14.40 करोड़ रुपये प्रदान किए गए थे। अब वित्त वर्ष 2020-21 के लिए, यह योजना नए रोगियों के साथ-साथ उन रोगियों को लाभान्वित करती रहेगी।
  • सीएम जय राम ठाकुर ने इस योजना की घोषणा पहले 2 एचपी बजट 2019-20 में की थी। CMO कार्यालय ने अब आधिकारिक तौर पर CMO हिमाचल (@CMOFFICEHP) पर एक ट्वीट के माध्यम से वित्त वर्ष 2020-21 के लिए 11 सितंबर 2020 को यह योजना शुरू की है।

सहारा योजना को लोकप्रिय बनाने के लिए एक अभियान शुरू किया जाएगा। मान्यता प्राप्त सामाजिक स्वास्थ्य कार्यकर्ता (आशा) और अन्य स्वास्थ्य कार्यकर्ता लाभार्थियों की पहचान करेंगे और निर्धारित औपचारिकताओं के साथ उनकी सहायता करेंगे। HP राज्य सरकार भागीदारी को प्रोत्साहित करने के लिए आशा कार्यकर्ताओं को 200 रुपये का प्रोत्साहन भी प्रदान करेगी। इन आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं, आशा कार्यकर्ताओं द्वारा अपने सहायकों के साथ ऑफ़लाइन आवेदन प्रक्रिया की जाएगी।

हिमाचल प्रदेश सरकार द्वारा शुरू योजनाओं की जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें

हिमाचल प्रदेश सहारा योजना के बारे में नवीनतम अपडेट के लिए हमारी वेबसाइट (www.sarkariyojnaye.com) के साथ संपर्क में रहें। तत्काल अपडेट प्राप्त करने के लिए इस पृष्ठ को बुकमार्क करें (CTRL + D दबाएं)। किसी भी प्रश्न/ सहायता के लिए नीचे दिए गए बॉक्स में एक टिप्पणी छोड़ दें। आप हमारे फेसबुक पेज (www.facebook.com/sarkariyojnaye247) पर भी एक संदेश छोड़ सकते हैं या disha@sarkariyojnaye.com पर एक मेल छोड़ सकते हैं।

अगर आपको हिमाचल प्रदेश सहारा योजना से सम्बंधित कोई भी प्रश्न पूछना हो तो आप नीचे कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है , हमारी टीम आपकी मदद करने की पूरी कोशिश करेगी। अगर आपको हमारी ये जानकारी अच्छी लगी हो तो आप इसे अपने दोस्तों को भी शेयर कर सकते है ताकि वो भी इस योजना का लाभ उठा सके।

3 comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *