Chhattisgarh Rajiv Gandhi Kisan Nyay Yojana 2022 Apply Online

Share it with your Friends

chhattisgarh rajiv gandhi kisan nyay yojana 2022 apply online सीजी राजीव गांधी किसान न्याय योजना ऑनलाइन आवेदन cg rajeev gandhi kisan nyay yojana online application farmer minimum income scheme in chattisgarh छत्तीसगढ़ किसान न्याय योजना ऑनलाइन आवेदन फॉर्म 2021

Chhattisgarh Rajiv Gandhi Kisan Nyay Yojana 2022

छत्तीसगढ़ सरकार ने हाल ही में बजट पेश किया गया है। इस बजट में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कई तरह की योजनाओं को शुरू करने का एलान किया है और कई योजनाओं को बजट देकर उसे पुनः शुरू किया। इन्ही योजनाओं में से एक किसान न्याय योजना है जो कि किसानों को लाभ पहुंचाने के उद्देश्य से शुरू की गयी है। इस योजना में, राज्य सरकार प्रत्यक्ष लाभ हस्तांतरण मोड के माध्यम से किसानों को सीधे उनके बैंक खातों में 30,000 रुपये प्रतिवर्ष प्रदान करेगी।

4 किश्तों में 19 लाख किसानों (30,000 प्रति वर्ष) के बैंक खातों में लगभग 5700 करोड़ रुपये जमा किए जाएंगे। CG राजीव गांधी किसान न्याय योजना चरण 1 में पहली किस्त 7500 रु की है, जो कि 21 मई 2020 को क्रेडिट की जाएगी। धान, मक्का और गन्ना पैदा करने वाले सभी किसानों को सीजी राजीव गांधी किसान न्याय योजना की पहली लाभार्थी की सूची में शामिल किया जाएगा।

chhattisgarh rajiv gandhi kisan nyay yojana 2022

chhattisgarh rajiv gandhi kisan nyay yojana 2022

विधानसभा से मंजूरी मिलते ही किसानों की शेष राशि देने का काम शुरू हो जाएगा। इस राजीव गाँधी किसान न्याय योजना का फायदा राज्य के सभी किसानों को प्रदान किया जाएगा। राज्य के जो इच्छुक किसान इस योजना का लाभ उठाना चाहते है तो इसके लिए ऑनलाइन मोड के माध्यम से आवेदन कर सकते है। इस सरकारी योजना में किसानों को उनकी प्रति क्विंटल धान की फसल पर 2,500 रुपए का न्यूनतम समर्थन मूल्य दिया जाएगा।

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें

योजना का नाम सीजी राजीव गांधी किसान न्याय योजना
योजना की घोषणा मुख्यमंत्री भूपेश बघेल
घोषित की गयी 3 मार्च 2020 को
लाभार्थी राज्य के सभी निवासी
आवेदन की तारीख 21 May 2020
आवेदन की अंतिम तिथि उपलब्ध नहीं
आवेदन का प्रकार ऑनलाइन

राजीव गांधी किसान न्याय योजना की विशेषताएं

  • न्याय योजना के अंतर्गत राज्य में रहने वाले सभी किसानों को इस योजना का लाभ दिया जाएगा इसके लिए विशेष प्रकार की प्रक्रिया शुरू की जाएगी।
  • इस योजना के जरिये किसान अपनी फसलों को बेच सके और उसके अंतर्गत मिलने वाले भाव में जो अंतर होगा उसकी भरपाई राज्य सरकार द्वारा सीधे किसानों के खाते में पहुंचाई जाएगी।
  • किसान न्याय योजना के अंतर्गत DBT ट्रांसफर सुविधा का उपयोग किया जाएगा और पैसा सीधे किसानों के खाते में भेजा जाएगा ताकि होने वाली धोखाधड़ी को रोका जा सके।

किसान न्याय योजना के लाभ

इस योजना के तहत लाभार्थियों को निम्नलिखित लाभ मिलेंगे :-

  • यह योजना किसानों को वित्तीय मदद प्रदान करेगी।
  • किसानों को धान का समर्थन मूल्य मिलेगा।
  • कृषि उत्पादों के लिए किसानों को अच्छा रिटर्न प्रदान करने में मदद करना।

किसान न्याय योजना के लिए पात्रता मापदंड

  • आवेदक को छत्तीसगढ़ राज्य का स्थायी निवासी होना चाहिए।
  • आवेदकों के पास आधार कार्ड होना चाहिए।
  • आवेदक की आयु 18 वर्ष से अधिक होनी चाहिए।

किसान पेंशन योजना के लिए यहाँ क्लिक करें

किसान न्याय योजना किस्त अपडेट

छत्तीसगढ़ सरकार ने किसान न्याय योजना के तहत 7 किस्तें राज्य के लाभार्थी किसानों के खातों में जमा कर दी है।

  • पहली किस्त – 21 मई 2020 (सन 2020-21 की पहली किश्त)
  • दूसरी किस्त – 20 अगस्त 2020 (सन 2020-21 की दूसरी किश्त)
  • तीसरी किस्त – 2 नवंबर 2020 (सन 2020-21 की तीसरी किश्त)
  • चौथी किस्त – 21 मार्च 2021 (सन 2020-21 की चौथी किश्त)
  • पांचवी किस्त – 21 मई 2021 (सन 2021-22 की पहली किश्त)
  • छठवीं किस्त – 20 अगस्त 2021 (सन 2021-22 की दूसरी किश्त)
  • सातवीं किस्त – 1 नवंबर 2021 (सन 2021-22 की तीसरी किश्त)
  • आठवीं किश्त – 31 मार्च 2022 (सन 2021-22 की चौथी किश्त)

राजीव गाँधी किसान न्याय योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज

इस योजना के लिए निम्नलिखित दस्तावेजों की आवश्यकता हो सकती है :-

  • आधार कार्ड
  • आयु प्रमाण
  • बैंक खाता विवरण
  • निवास प्रमाण
  • पासपोर्ट साइज फोटो और अन्य महत्वपूर्ण दस्तावेज

राजीव गांधी किसान NYAY योजना आवेदन प्रक्रिया

योजना के तहत शामिल फसल लगाने वाले सभी श्रेणी के किसानों को आवेदन पत्र में में जानकारी भरकर, आवश्यक अभिलेख एवं घोषणा पत्र के साथ निर्धारित समय-सीमा में पंजीकरण कराना होगा। आवेदन में उल्लेखित भूमि एवं फसल रकबे का कृषि / राजस्व विभाग के मैदानी अमलों से सत्यापन कराने के उपरांत सहकारी समिति में पंजीयन कराना होगा।

केवल उन्हीं किसानों को योजना का लाभ मिलेगा जो योजना के तहत अपना पंजीकरण निर्धारित समय सीमा में करवा लेते हैं। किसान न्याय योजना के तहत पंजीकरण करवाने के लिए राज्य सरकार द्वारा तय की गई समय सीमा कुछ इस प्रकार है।

खरीफ की फसलों के लिए: 1 जून से 30 सितम्बर (खरीफ के लिए)
गन्ना फसल उत्पादकों के लिए: प्रतिवर्ष 30 सितम्बर तक. गन्ने की फसल उगाने वाले किसानों को प्रतिवर्ष 30 सितम्बर तक अपना पंजीकरण अपने अधिसूचित क्षेत्र में सहकारी शक्कर कारखाने अथवा विभागीय पोर्टल में करवाना जरूरी है।

ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी एवं पटवारी द्वारा पंजीकृत रकबे का गिरदावरी कर सत्यापन किया जाएगा। पंजीकृत रकबा में विसंगति होने पर कृषक द्वारा बोए गए वास्तविक रकबा आंकलन कर आदान सहायता राशि का भुगतान किया जाएगा। योजना के अंतर्गत पात्रता निर्धारण करते समय कृषि भूमि सीलिंग कानून के प्रावधानों का ध्यान रखा जाए।

जिन किसानों के पास आधार नंबर नहीं है ऐसे कृषको का आधार पंजीयन कराने की कार्यवाही करते हुए योजना के लिए पंजीकरण कराया जाएगा।

किसान न्याय योजना आवेदन पत्र

राजीव गांधी किसान न्याय योजना का किसान आवेदन अथवा पंजीकरण फार्म कुछ इस तरह से दिखाई देता है।

पीएम किसान योजना मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें

Click Here to CG Shakti Swarupa Yojana

सरकारी योजनाओं की जानकारी के लिए रजिस्ट्रेशन करें यहाँ क्लिक करें
फेसबुक पेज को लाइक करें (Like on FB) यहाँ क्लिक करें
टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिये (Join Telegram Channel) यहाँ क्लिक करें
इंस्टाग्राम पर हमें फॉलो करें (Follow Us on Instagram) यहाँ क्लिक करें
सहायता/ प्रश्न के लिए ई-मेल करें @ [email protected]

Press CTRL+D to Bookmark this Page for Updates

अगर आपको राजीव गाँधी किसान न्याय योजना से सम्बंधित कोई भी प्रश्न पूछना हो तो आप नीचे कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है , हमारी टीम आपकी मदद करने की पूरी कोशिश करेगी। अगर आपको हमारी ये जानकारी अच्छी लगी हो तो आप इसे अपने दोस्तों को भी शेयर कर सकते है ताकि वो भी इस योजना का लाभ उठा सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published.