Angikar Abhiyan 2019 Central Government Vulneribility Atlas of India

Share with your Friends

angikar abhiyan 2019 central government starts angikaar abhiyan check e-course at vulnerability atlas details in hindi अंगीकार अभियान और अतिसंवेदनशीलता एटलस पर ई-कोर्स angikaar abhiyan vulneribility atlas of india

Angikar Abhiyan 2019 (अंगीकार अभियान)

केन्द्रीय आवास तथा शहरी विकास मंत्रालय ने अंगीकार अभियान शुरू किया है। इस अभियान के द्वारा जल व ऊर्जा संरक्षण, कचरा प्रबंधन, स्वास्थ्य पौधरोपण, स्वच्छता इत्यादि जैसे मुद्दों पर फोकस किया जायेगा। इस उद्देश्य के लिए अभियान विभिन्न शहरी मिशनों और इन विषयों से निपटने वाले अन्य केंद्रीय मंत्रालयों की योजनाओं /सेवाओं के साथ अभिसरण करेगा। अभिसरण विशेष रूप से पीएमएवाई लाभार्थियों के लिए गैस कनेक्शन के लिए उज्ज्वला और स्वास्थ्य बीमा के लिए आयुष्मान भारत पर केंद्रित करेगा।

angikar abhiyan 2019
angikar abhiyan 2019

आयुष्मान योजना तथा केंद्र सरकार की अन्य कल्याणकारी योजनाओं में लोगों को जोड़ने के लिए अंगीकार अभियान शुरू किया गया है। इस अभियान को अभी प्रधानमंत्री आवास योजना शहरों में शुरू किया जायेगा। यह गाँधी जयंती को सभी लक्षित शहरों में शुरू किया जायेगा और मानवाधिकार दिवस (10 दिसंबर 2019) के अवसर पर इसका समापन होगा।

योजना का नाम अंगीकार अभियान
विभाग केंद्र सरकार के शहरी विकास मंत्रालय
शुरू करने की तिथि 2 October 2019 (गाँधी जयंती)
समापन की तिथि 10 December 2019 (मानवाधिकार दिवस)
आवेदन का प्रकार ऑनलाइन

केंद्र सरकार का अंगीकार अभियान

अंगीकार अभियान के बारे में जानकारी देते हुए कहा गया कि गाँधी ने साफ़, स्वस्थ और कूड़े से मुक्त भारत का सपना देखा है। उनकी जयंती आ रही है और नए भारत के लिए उनके आदर्श आज भी प्रेरणा के श्रोत है। इन्हीं आदर्शों को ध्यान में रखते हुए पीएम आवास योजना के तहत अंगीकार अभियान को लॉन्च किया गया। योजना का लाभ पाने वालों के सामाजिक व्यवहार में बदलाव का प्रयास किया जायेगा।

  • पीएमएवाई के तहत 1.12 करोड़ की मांग के बदले में अब तक लगभग 88 लाख घरों की स्वीकृति दी गयी है।
  • अंगीकार का लक्ष्य चरणबद्ध तरीके से मिशन के सभी लाभार्थियों तक पहुंचना है।
  • सभी लक्षित शहरों में यह अभियान प्रारंभिक चरण के बाद महात्मा गाँधी की जयंती के अवसर पर 2 अक्टूबर 2019 को शुरू होगा।
  • 10 दिसंबर 2019 को मानवाधिकार दिवस के अवसर पर इसका समापन होगा।
  • इस अभियान में घर घर गतिविधियों, वार्ड और शहर स्तर के कार्यक्रमों को शामिल किया जायेगा।

प्रधानमंत्री आवास योजना 2019 -कैसे करें आवेदन PMAY Scheme Online Application के लिए यहाँ क्लिक करें

अंगीकार अभियान 2019 से जुड़ी मुख्य बातें

  • यह अभियान अंगीकार के तहत तय किये गए विषयों से निपटने वाली अन्य मंत्रालयों की योजनाओं और मिशनों को एक साथ जोड़ेगा।
  • अभिसरण विशेष रूप से PMAY (U) में गैस कनेक्शन केलिए उज्ज्वला योजना के लाभार्थियों और स्वास्थ्य बीमा के लिए आयुष्मान भारत योजना के लाभार्थियों पर ध्यान केंद्रित करेगा।
  • अंगीकार अभियान का उद्देश्य PMAY (U) के सभी लाभार्थियों तक पहुंचना है।
  • यह नयी घोषणा 2 अक्टूबर, 2019 को 150वीं गाँधी जयंती के अवसर पर सभी लक्षित शहरों में शुरू की जाएगी।
  • विभिन्न जागरूकता गतिविधियों जैसे डोर टू डोर अभियान, वार्ड और शहर स्तर पर कार्यक्रमों का आयोजन किया जायेगा।

Vulnerability Atlas Of India

आवास और शहरी विकास मंत्रालय द्वारा वलनैरिबिलटी एटलस ऑफ़ इंडिया नाम का एक ऑनलाइन कोर्स भी लॉन्च किया गया। ये कोर्स देश में प्राकृतिक आपदाओं से पीड़ित क्षेत्रों या संभावित प्राकृतिक आपदाओं की समझ और जागृक्यता जागरूकता विकसित करने से जुड़ा है। इस कोर्स के लिए 3000 रूपए रजिस्ट्रेशन चार्ज लगता है। इससे जुडी परीक्षा को देने के लिए तीन मौके मिलेंगे। पास होने वाले को एक सर्टिफिकेट भी दिया जायेगा।

  • योजना एवं वास्तुकला विद्यालय (एसपीए), नई दिल्ली और भवन निर्माण सामग्री एवं प्रौद्योगिक संवर्धन परिषद (बीएमटीपीसी) के सहयोग से आवास एवं शहरी मामलों के मंत्रालय ने अतिसंवेदनशीलता एटलस पर ई-कोर्स की पेशकश की है।
  • यह एक अनूठा कोर्स है जो प्राकृतिक खतरों के बारे में जागरूकता एवं समझ प्रदान करता है।
  • विभिन्न खतरों (भूकंप, चक्रवात, भूस्खलन, बाढ़ आदि) को देखते हुए अति संवेदनशीलता वाले क्षेत्रों की पहचान में मदद करता है और मौजूदा आवासीय भंडार को नुकसान के जोखिम के जिलेवार स्तर को स्पष्ट रूप से बताता है।
  • ई-कोस वास्तुकला यानी आर्किटेक्चर, सिविल इंजीनियरिंग, शहरी एवं क्षेत्रीय योजना, आवास एवं बुनियादी ढांचा योजना, निर्माण इंजीनियरिंग एवं प्रबंधन और भवन एवं सामग्री अनुसंधान के क्षेत्र में आपदा शमन एवं प्रबंधन के लिए एक प्रभावी एवं कुशल साधन होगा।

वलनैरिबिलटी एटलस ऑफ़ इंडिया की अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें

वलनैरिबिलटी एटलस पर ई-कोर्स के रजिस्ट्रेशन के लिए एसपीए की आधिकारिक वेबसाइट पर जाने के लिए यहाँ क्लिक करें

अगर आपको अंगीकार अभियान से सम्बंधित कोई भी प्रश्न पूछना हो तो आप नीचे कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है , हमारी टीम आपकी मदद करने की पूरी कोशिश करेगी। अगर आपको हमारी ये जानकारी अच्छी लगी हो तो आप इसे अपने दोस्तों को भी शेयर कर सकते है ताकि वो भी इस योजना का लाभ उठा सके।

2 Comments

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *